Tuesday, July 23, 2024

क्या इंसानों का ब्रेस्ट मिल्क खरीदा जा सकता है यहां तो आईसक्रीम भी मिलती है…

ये तो सब जानते हैं कि मां का दूध बच्चे के लिए कितना फायदेमंद होता है. लेकिन, कई मां ब्रेस्टफीडिंग नहीं करवा पाती हैं तो उस स्थिति में बच्चों के लिए दिक्कत हो जाती है और किसी अन्य तरीके से इस जरुरत को पूरा किया जा सकता है. ऐसे में लोगों के मन में सवाल रहता है कि आखिर क्या मां का दूध खरीदा जा सकता है और बच्चे की आवश्यकता को पूरा किया जा सकता है. इंटरनेट पर ब्रेस्ट मिल्क की आईसक्रीम के कई आर्टिकल मिलते हैं. तो आज जानते हैं कि क्या सही में ब्रेस्ट मिल्क खरीदा जा सकता है और इस आईसक्रीम की क्या कहानी है…

क्या खरीदा जा सकता है ब्रेस्ट मिल्क?

अगर भारत की बात करें तो भारत में ब्रेस्ट मिल्क नहीं खरीदा जा सकता है. भारत में सरकार किसी को भी लाभ के लिए ब्रेस्ट मिल्क बेचने की इजाजत नहीं देती है, तो कोई भी ना ब्रेस्ट मिल्क खरीद सकता है और ना ही बेच सकता है. पिछले साल ही सरकार ने एक डेयरी कंपनी का लाइसेंस रद्द किया था, जो महंगे भाव में ब्रेस्ट मिल्ट बेचने का काम कर रही थी. वैसे प्री-मैच्योर बेबी के लिए या अन्य परिस्थितियों के लिए ब्रेस्ट मिल्ड डॉनेट करने की व्यवस्था है.

दरअसल, कई संस्थाएं बिना किसी लाभ के उन बच्चों को ब्रेस्ट मिल्क उपलब्ध करवा रही हैं, जिन्हें ब्रेस्ट मिल्क नहीं मिल रहा है. ऐसे में जरुरत पड़ने पर डॉनेट किया हुआ ब्रेस्ट मिल्क मांगा जा सकता है, लेकिन इसे बेचना अपराध है. FSS Act 2006 के तहत कोई भी ऐसा नहीं कर सकता है.

क्या है आईसक्रीम की कहानी?

अब जानते हैं कि ब्रेस्ट मिल्क की आईसक्रीम का क्या मामला है. ये बात साल 2011 की है, जब ब्रेस्ट मिल्क वाली आईसक्रीम की काफी चर्चा हुई थी और इसे लेकर विवाद भी हुआ था. दरअसल, उस वक्त लंदन में एक आईइसक्रीम पार्लर ने ब्रेस्ट मिल्क से बनी आईसक्रीम बेचने का दावा किया था. वो आईसक्रीम डेयरी मिल्क की जगह ब्रेस्ट मिल्क से बनाई गई थी. इस आईसक्रीम को Baby Gaga नाम दिया गया था.

इस आईसक्रीम को लेकर काफी विवाद हुआ था, लेकिन इसके पीछे ये तर्क दिया गया था कि अगर वयस्कों को एहसास हो कि ब्रेस्ट मिल्क कितना स्वादिष्ट होता है तो नई माताओं को स्तनपान कराने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. जो महिलाओं के लिए सही है.

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles