Saturday, July 13, 2024

सूर्यास्त के बाद भूलकर भी न करें ये 4 काम, देवताओं का होता है अपमान, रूठ जाती हैं मां लक्ष्मी, घर में आती है दरिद्रता…

सुख’ हर इंसान की चाहत होती है, चाहें वह शारीरिक हो, सांसारिक हो, पारिवारिक हो या फिर आर्थिक. लेकिन कई बार तमाम मेहनत के बावजूद भी परिस्थितियां विपरीत होती हैं. घर में लड़ाई-झगड़े, हारी-बीमारी, धन की कमी जैसी कई परेशानियां सामने आने लगती हैं. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, कई बार ऐसी दिक्कतें तब आती हैं जब जाने अंजाने में हम कुछ ऐसे काम कर जाते हैं जो वास्तु दोष का कारण बन जाती हैं. घर में इन दोषों के होने से मां लक्ष्मी नाराज होकर चली जाती हैं.

माना जाता है कि शाम के समय भगवान शिव अपने गणों के साथ पृथ्वी पर आते हैं और जो जैसा कर्म कर रहा होता है उसे वैसा फल देते हैं. यदि कोई व्यक्ति शाम के समय प्रतिबंधित कार्य करता है तो मां लक्ष्मी उस घर से उल्टे पांव लौट जाती हैं. इसके बाद घर में कुलक्ष्मी का वास होने से शारीरिक, मानसिक और आर्थिक संकट बढ़ने लगता है. आइए उन्नाव के ज्योतिषाचार्य पंडित ऋषिकांत मिश्र से जानते हैं उन कामों को, जिन्हें शाम के समय करने से बचना चाहिए.

सूर्यास्त के बाद इन कामों को करने से बचें

दहलीज पर बैठने से बचें: वास्तु शास्त्र में शाम के वक्त दहलीज पर बैठना बेहद अशुभ माना जाता है. ऐसे में किसी भी व्यक्ति को शाम के समय दहलीज पर बैठने से बचना चाहिए. माना जाता है कि शाम के समय घर की दहलीज पर बैठने से मां लक्ष्मी घर में प्रवेश नहीं करती है, जिससे घर में अलक्ष्मी का वास हो जाता है. इसके चलते घर में आर्थिक संकट बढ़ता है.

भोजन करने से बचें: सूर्यास्त के बाद (रात से पहले का समय) भोजन करने से बचना चाहिए. यह वह समय होता है, जब देवताओं के विश्राम का समय होता है. इसके अलावा, इसी समय उनकी पूजा भी की जाती है. ऐसी स्थिति में शाम को भोजन करने से देवी-देवताओं का अपमान होता है. शास्त्रों के मुताबिक, ऐसा करने से मां लक्ष्मी रूठ जाती हैं, जिससे घर में दरिद्रता का वास हो जाता है.

घर में ना लगाएं झाड़ू: घर की सफाई बेशक बहुत जरूरी हो, लेकिन शाम के समय झाड़ू या पोछा लगाने से बचना चाहिए. वास्तु शास्त्र के मुताबिक, शाम के समय झाड़ू लगाने से मां लक्ष्मी घर छोड़कर चली जाती हैं. इसके बाद से परिवार के सदस्यों के बुरे दिन आने शुरू हो जाते हैं. घर कई संकटों के दौर से गुजरने लगता है.

सूर्यास्त के वक्त सोने से बचें: सूर्यास्त के समय सोना ना सिर्फ शास्त्रों में गलत माना गया है, बल्कि विज्ञान भी गलत मानता है. यह बेक्त की नींद होती है. इससे दिनचर्या पर असर पड़ता है. वहीं, शास्त्रों के अनुसार, शाम के समय सोना बेहद अशुभ माना जाता है. मान्यता है कि इस वक्त सोने से व्यक्ति को पेट संबंधी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है. साथ ही देवता नाराज हो जाते हैं.

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles