Tuesday, July 23, 2024

बस आज गले में धारण कर ले ये एक चीज, खुल जाएंगे तरक्की के रास्ते….

सप्ताह का बुधवार का दिन भगवान गणेश को समर्पित है। आज के दिन गौरी पुत्र गणपति की पूजा करने से बल, बुद्धि और संपन्नता का आशीर्वाद मिलता है। बुधवार के दिन मंदिर जाकर भगवान लंबोदर के दर्शन और पूजा जरूर करना चाहिए। इसके अलावा आज के दिन कुछ विशेष उपायों को अपनाकर विभिन्न परेशानियों से भी छुटकारा पा सकते हैं। तो आचार्य इंदु प्रकाश से जानिए कि बुधवार के दिन क्या करना शुभकारी रहेगा।

1. अगर आप अपने पारिवारिक रिश्तों से नाराजगी को दूर करना चाहते हैं और रिश्तों को बेहतर करना चाहते हैं तो आज के दिन
आपको अपने भोजन में से एक रोटी निकालकर अलग रखनी चाहिए और उसके तीन हिस्से करने चाहिए। अब उन तीन हिस्सों में से
एक हिस्सा गाय को खिला दें, एक हिस्सा कौवे को डाल दें और एक हिस्सा कुत्ते को खाने के लिए दें।

2. अगर लोग जल्दी से आपकी बातों से प्रभावित नहीं हो पाते हैं तो लोगों को अपनी बातों से अपने विचारों से प्रभावित करने के लिए
आज के दिन आपको किसी किन्नर को हाथ जोड़कर प्रणाम करना चाहिए और साथ ही उसे हरे रंग के वस्त्र कपड़े गिफ्ट करने
चाहिए।

3. अगर आप अपना स्वास्थ्य बेहतर बनाये रखना चाहते हैं, अपने आपको फिट रखना चाहते हैं तो आज के दिन आपको मां दुर्गा के
इस विशेष मंत्र का 108 बार यानि एक माला जप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- जयंती मङ्गला काली भद्रकाली कपालिनी। दुर्गा
क्षमा शिवा धात्री स्वाहा स्वधा नमोऽस्तु ते॥

4. अगर आपके जीवन में किसी प्रकार की कठिन परिस्थिति चल रही है तो उस कठिन परिस्थिति से बाहर निकलने के लिए आज के
दिन आपको स्नान आदि के बाद नागकेसर के पेड़ या पौधे को प्रणाम करना चाहिए। साथ ही उसकी जड़ में जल चढ़ाना चाहिए।
लेकिन अगर आपको कहीं आस-पास नागकेसर का पेड़ न मिले तो इंटरनेट से नागकेसर की फोटो डाउनलोड करके उसके दर्शन कर
लें। यहां ध्यान रहे कि फोटो में नागकेसर के पेड़ पर फूल जरूर लगे होने चाहिए, यानि वह पेड़ हरा भरा होना चाहिए।

5. अगर आपकी संतान अपना खुद का कोई बिजनेस खोलना चाहती है या आप उसका बिजनेस खुलवाना चाहते हैं, लेकिन उसमें
बिजनेस की इतनी समझ नहीं है तो अपनी संतान के अंदर वो समझ डेवलप करने के लिए आज के दिन आपको साफ, शुद्ध मिट्टी
लेनी चाहिए। अब उस मिट्टी को पानी की सहायता से गाढ़ा करके उससे 27 छोटी-छोटी गोलियां बनाएं और उन्हें अच्छे से सुखा लें।
अब उन गोलियों को आज से लेकर अगले 27 दिनों तक एक-एक करके अपनी संतान के हाथों से किसी मंदिर में रखवाएं।

6. अगर आपका विवेक कुछ कम हो गया है, आप अच्छे-बुरे की परख नहीं कर पा चाहिए और हाथ जोड़कर उन्हें प्रणाम करना चाहिए।
साथ ही मां दुर्गा के इस मंत्र का जाप करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है- सर्व मंगल मांगल्ये शिवे सर्वार्थसाधिके शरण्य त्र्यम्बके गौरी
नारायणी नमोस्तुते।।

7. अगर बहनों के साथ आपके रिश्ते में कुछ समस्या आ गई है और आप अपने रिश्तों को फिर से ठीक करना चाहते हैं तो बहन के
साथ रिश्तों को ठीक करने के लिए आज के दिन आपको 5 पीले रंग की कौड़ियां लेनी चाहिए। अब उन कौड़ियों को एक स्थान पर
इकट्ठा करके जलाना चाहिए। बाद में कौड़ियां जलने के बाद बची हुई राख को किसी एकांत स्थान पर रख आएं।

8. अगर आप जीवन में अपनी तरक्की सुनिश्चित करना चाहते हैं तो अपनी तरक्की सुनिश्चित करने के लिए आज के दिन आपको एक
तांबे का छोटा-सा चौकोर टुकड़ा लेना चाहिए और उस टुकड़े के बीच में एक छोटा-सा छेद करवाना चाहिए। अब उस छेद में एक
सफेद रंग का धागा पिरोइये और उस तांबे के टुकड़े को अपने गले में धारण कीजिए।

9. अगर आप अपने घर में सुख-समृद्धि बढ़ाना चाहते हैं तो आज के दिन आपको पंसारी की दुकान से एक नागकेसर का सूखा फूल लेना
चाहिए और उसे अपने घर के मंदिर में रखना चाहिए। अब उसकी विधि-पूर्वक पूजा करनी चाहिए और मंत्र जाप करना चाहिए। मंत्र
इस प्रकार है- या देवी सर्वभूतेषु शक्ति-रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नमः॥ इस प्रकार पूजा के बाद उस फूल
को एक कपड़े में लपेटकर अपनी तिजोरी में रख लें।

10. अगर आप अपने बिजनेस में बढ़ोतरी करना चाहते हैं तो आज के दिन आप थोड़े से हरे मोटे मूंग लीजिये और उन्हें मां दुर्गा के
मंदिर में रख दीजिए। अब देवी मां को चढ़ाएं उन मूंग में से आधे मूंग लेकर घर वापस आ जायें और उन्हें अपने पास या अपनी
अलमारी में रख लें। 27 दिनों तक उन मूंग को ऐसे ही रखा रहने दें। 27वें दिन के बाद आप उन्हें इस्तेमाल में ले सकते हैं।

11. अगर आपके कार्यों में एक के बाद एक परेशानी आती जा रही है तो उन परेशानियों से छुटकारा पाने के लिए आज के दिन आपको
अपने वजन के दसवें हिस्से के बराबर हरी घास लेनी चाहिए और किसी गौशाला में दान करनी चाहिए।

12. अगर आप अपने जीवन में सुगमता बनाये रखना चाहते हैं तो इसके लिए आज के दिन आपको देवी मां के इस मंत्र का 5 बार जप
करना चाहिए। मंत्र इस प्रकार है देहि सौभाग्यं आरोग्यं देहि में परमं सुखम्‌। रूपं देहि जयं देहि यशो देहि द्विषोजहि॥

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles