Wednesday, July 24, 2024

तंबाकू का सेवन करती थी मां, जन्म के बाद नवजात में मिला हाई लेवल निकोटीन, डॉक्टर भी हैरान देखिये….

‘तंबाकू के सेवन हानिकारक है’…ये लाइन अनगिनत टाइम हमारे कानों के आसपास से गुजरती है. कई बार तंबाकू के दुष्प्रभावों को लेकर अलर्ट किया जाता है लेकिन बहुत ही कम लोगों के ऊपर इसका असर होता है. गुजरात (Gujarat) से हैरान कर देने वाला मामला सामने आ रहा है. जहां मां के तंबाकू (Tobacco) सेवन का असर उसके नवजात बच्चे पर देखने को मिला है. उसका पूरा शरीर नीला पड़ गया था. उसमें सामान्य प्रतिक्रिया भी देखने को नहीं मिल रही थी. मेडिकल रिपोर्ट्स में पता चला कि बच्चे में काफी ज्यादा मात्रा में निकोटीन (Nicotine) थी, जिसके कारण उसमें इस तरह के लक्षण नजर आ रहे थे.

मां को थी तंबाकू की लत

डॉक्टरों के मुताबिक, बच्चे के रक्तप्रवाह में निकोटीन के हाई लेवल का कारण मां में तंबाकू खाने की लत थी. रिपोर्ट के मुताबिक, जन्म के बाद शिशु में निकोटीन लेवल 60 ng/ml था. जो वयस्कों में निकोटीन के सामान्य लेवल से 3 हजार गुना ज्यादा तक है. यह सेहत के लिए खतरनाक है.

मां को अस्थमा की शिकायत

डॉक्टरों की टीम ने पाया कि मां अस्थमा से पीड़ित थी. वह तंबाकू खाया करती थी. वह दिन में 10-15 पाउच तंबाकू-गुटखे का सेवन करती थी, जिससे रक्त प्रवाह से गर्भ में पल रहे शिशु में निकोटीन का लेवल काफी हाई हो गया. मेडिकल रिपोर्ट्स में बताया गया है कि मां की उम्र जब 15 साल थी, तब से वह तंबाकू का सेवन करती थी. हालांकि, पांच दिनों तक इलाज के बाद जब बच्चे में सुधार देखा गया, तब डॉक्टरों ने उसे डिस्चार्ज कर दिया है.

स्त्री रोग विशेषज्ञ का क्या कहना है

किसी महिला में तंबाकू और धूम्रपान के साइड इफेक्ट्स पर स्त्री रोग विशेषज्ञ का कहना है कि इसकी वजह से मां से बच्चे में गंभीर दुष्परिणाम हो सकते हैं. पहले भी इस तरह के रिपोर्ट सामने आ चुके हैं. इसलिए महिलाओं को धूम्रपान और शराब नहीं पीना चाहिए. ऐसी महिलाओं में गर्भपात का खतरा कहीं ज्यादा होता है.

धूम्रपान से क्या-क्या नुकसान हो सकते हैं

1. धूम्रपान करने वाली महिलाओं को गर्भवती होने में समस्या होती है.

2. गर्भावस्था के दौरान धूम्रपान करने से गर्भ में पल रहे शिशु के टीशूज में क्षति हो सकती है. फेफड़े और मस्तिष्क पर इसका दुष्प्रभाव देखने को मिलता है.

3. तंबाकू और धूम्रपान की वजह से जन्म के समय बच्चे के होंठ-तलवे कटे हो सकते हैं.

प्रेगनेंसी में शराब पीने के नुकसान

1. प्रेगनेंसी में शराब पीने से गर्भपात, समय से पहले जन्म और जन्म के वक्त बच्चे का वजन कम होने का रिस्क रहता है.
2. बच्चे के जन्म के बाद बच्चे का विकास और मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित हो सकता है.
3. गर्भावस्था में शराब पीने से बच्चे में अल्कोहल स्पेक्ट्रम डिसऑर्डर आ सकता है.

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles