Tuesday, February 27, 2024

कोर्ट ने पति को यह कहते हुए जमानत नहीं दी कि मरीज को छुए बिना डॉक्टर इलाज नहीं कर सकता…

पत्नी को गलत इरादे से छूने के आरोप में डॉक्टर को पीटने वाले आरोपी पति को केरल हाईकोर्ट ने जमानत देने से साफ इनकार कर दिया। कोर्ट ने कहा कि इलाज के दौरान नर्सें भी मौजूद थीं। एक डॉक्टर किसी मरीज को बिना छुए उसका इलाज नहीं कर सकता। यदि उपचार के दौरान रोगी चिकित्सक के स्पर्श से परेशान होता है तो चिकित्सक को अपना व्यवसाय करने में परेशानी होगी।

इस मामले की सुनवाई जस्टिस ए बदरुद्दीन की सिंगल बेंच ने की. उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में अग्रिम जमानत देने से खतरनाक स्थिति पैदा होगी। जो डॉक्टरों की सुरक्षा और स्वास्थ्य सेवा के लिए खतरा हो सकता है।

डॉक्टर के खिलाफ मामला8 जनवरी 2022 का है। केरल के एक अस्पताल में एक शख्स अपनी पत्नी का इलाज कराने गया. वहां उसने अपनी पत्नी का चेकअप कर रहे पुरुष डॉक्टर को थप्पड़ मार दिया और उसका कॉलर पकड़ लिया। शख्स का कहना है कि डॉक्टर ने उसकी पत्नी को गलत इरादे से छुआ. उन्होंने इस मामले में डॉक्टर के खिलाफ केस दर्ज कराया है. आरोपी पति का कहना है कि डॉक्टर उस वक्त ऑन कॉल ड्यूटी कर रही थी. उसने मरीज (आरोपी पत्नी) को नापाक इरादे से छुआ।

उधर, अस्पताल ने आरोपी पति के खिलाफ डॉक्टर से मारपीट की धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है। इस मामले में पति ने अग्रिम जमानत के लिए हाईकोर्ट में अर्जी दी थी। याचिकाकर्ता के वकीलों ने कोर्ट को बताया कि उनके मुवक्किल पर लगाए गए सभी आरोप झूठे हैं. याचिकाकर्ता ने पहले भी की थी डॉक्टरों से मारपीट

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles