Wednesday, July 17, 2024

सुख पाने की इच्छा होगी पूरी, आजमाएं गरुड़ पुराण के ये सटीक उपाय…

भगवान विष्णु के प्रिय वाहन पक्षीराज गरुड़ ने एक बार भगवान विष्णु से प्राणियों की मृत्यु, यमलोक की यात्रा, स्वर्-नरक, योनियों और सद्गति को लेकर कई गूढ़ और रहस्यमयी प्रश्न पूछे. भगवान विष्णु ने गरुड़ के इन प्रश्नों का सविस्तार उत्तर दिया. प्रश्न उत्तर की यही श्रृंखला गरुड़ पुराण कहलाती है.

गरुड़ पुराण को हिंदू धर्म के 18 महापुराणों में एक माना गया है. इसीलिए यह हिंदू धर्म का महत्वपूर्ण और ऐसा ग्रंथ माना गया है जो मृत्यु और मृत्यु के बाद होने वाली घटनाओं के बारे में जानकारी देता है. लेकिन इसी के साथ गरुड़ पुराण में ऐसी कई बातें बताई गई हैं, जोकि जीवन में सफलता दिला सकती है. अगर आप भी अपने जीवन में सुख पाने की इच्छा रखते हैं तो गरुड़ पुराण में बताए इन 6 कामों को जरूर करें. गरुड़ पुराण के एक श्लोक में इन 6 कामों का उल्लेख मिलता है.

श्लोक:– विष्णुरेकादशी गंगा तुलसीविप्रधेवन:। असारे दुर्गसंसारे षट्पदी मुक्तिदायिनी।।

भगवान विष्णु (Lord Vishnu): गरुड़ पुराण में कहा गया है कि, भगवान विष्णु अपने भक्तों के सभी दुखों का नाश करते हैं और जीवन में सुख-समृद्धि प्रदान करते हैं. इसलिए प्रतिदिन भगवान विष्णु की पूजा-अर्चना करनी चाहिए. इससे हर कार्य में सफलता हासिल होती है.

गाय (Cow Puja): हिन्दू धर्म में गाय को पवित्र और पूजनीय पशु माना गया है. मान्यता है कि गाय के शरीर अलग-अलग भागों में देवी-देवताओं का वास होता है. इसलिए गाय को माता के समान दर्जा प्राप्त है और देवतुल्य मानकर इसकी पूजाकी जाती है. प्रतिदिन गौ पूजन करने से और गाय की सेवा करने समस्त पाप कर्मों से भी मुक्ति मिलती है.

गंगा नदी (Maa Ganga
): हिंदू धर्म में गंगा नदी को सभी नदियों में श्रेष्ठ माना जाता है. गंगा में स्नान करने और पूजा करने से हर काम में सफलता मिलती है.

तुलसी (Tulsi): भगवान विष्णु को तुलसी अतिप्रिय है. जिस घर पर प्रतिदिन तुलसी पूजन किया जाता है वहां मां लक्ष्मी का वास होता है और भगवान विष्णु की भी कृपा प्राप्त होती है.

पंडित या ज्ञानी (Pandit): पंडित, पुरोहित या ज्ञानी को हमेशा सम्मान दें. जो लोग इनका उपहास करते हैं वह जीवन में कभी सफल नहीं हो सकते. इसलिए हमेशा इनका सम्मान करें और इनके द्वारा बताई बातों का पालन करें.

एकादशी व्रत (Ekadashi Vrat): हिंदू धर्म में सभी व्रतों में एकादशी व्रत को श्रेष्ठ माना गया है. मान्यता है कि, जो व्यक्ति सभी एकादशी व्रतों को श्रद्धा औरनि के साथ व्रत रखता है, उसे शुभ फलों की प्राप्ति होती है. साथ ही एकादशी नियमों का पालन करने वालों को भी भगवान का आशीर्वाद मिलता है.

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles