Saturday, July 13, 2024

हर दुख से उबार देते हैं ये 3 लोग, संकट में हैं सबसे बड़ी ताकत….

चाणक्य कहते हैं कि जीत उनकी निश्चित होती है जो मुसीबत से डरना जानते नहीं. आप हारते हैं या जीतते हैं यह आपकी सोच पर निर्भर करता है, मान लें तो हार है लेकिन ठान लें तो जीत होगी.

अच्छे दिन के साथ-साथ मुश्किल समय भी आता है, लेकिन जो इन मुश्किलों को आसानी से निपटा लेता है वहीं असली योद्धा होता है. चाणक्य ने जीवन में 3 लोगों का साथ सबसे अहम माना जाता है, इनके साथ होते हुए व्यक्ति हंसते-हंसते हर संकट से उबर जाता है. कठिन समय में ये लोग साथ हो तो दुनिया की कोई ताकत उसे हरा नहीं सकती.

समझदार जीवनसाथ

जो पति-पत्नी सुख-दुख में एक दूसरे के साथ परछाई की तरह खड़े रहते हैं उन्हें मुश्किल समय भी कोई परेशानी नहीं होती. कठिन समय में समझदार जीवनसाथ का साथ होना ढाल की तरह काम करता है. संस्कारी और समझादर पार्टनर की बदौलत इंसान सफलता की सीढ़ी जरुर चढ़ता है.

संतान का सही आचरण

संतान माता पिता का सहारा होती है. एक अच्छे आचरण वाली संतान माता-पिता पर कभी दुख का बादल नहीं मंडराने देती. जो बच्चे माता पिता की हर छोटी-बड़ी चीजों का ख्याल रखते है और मुसीबत के वक्त उन्हें लेष मात्र का दुख नहीं होने देते, ऐसी एक संतान कई संतानों के मुकाबले श्रेष्ठ होती है,

संगति से मिलता है सुख

व्यक्ति का व्यवहार और संगत उसकी सफलता में बहुत अहम भूमिका निभाती है. अच्छी संगत जहां आसमान की ऊंचाइयों को छूने के लिए हर कदम पर प्रेरित करती है तो वहीं बुरे लोगों का साथ बुद्धि भ्रष्ट कर देता है और बर्बादी की कगार पर ले आता है. सज्जनों की संगती में रहने से जीवन सुख के साथ बीतता है और संपन्नता घर आती है.

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles