Wednesday, July 17, 2024

किसी जानवर के काट लेने पर सबसे पहले क्या करें, यहां है हर सवाल का जवाब जानिए …

कभी कभी पालतू या जंगली पशु-पक्षियों के काटने या पंजा मारने (Animal bites) के कारण कई व्यक्ति घायल हो जाते है. ऐसे समय पीड़ित की सही देखभाल जरूरी है. अगर समय रहते फर्स्ट एड नहीं मिला तो स्थिति गंभीर हो सकती है. घाव की गंभीरता के अनुसार फर्स्ट एड (First aid) की जरूरत होती है. आइए जानते हैं एनिमल्स बाइट के मामले में किस तरह फर्स्ट एड (First aid for Animal bites) करनी चाहिए.

किसी जानवर के काटने पर ऐसे करें फर्स्ट एड (First aid for Animal bites)

घाव को साबुन और पानी से अच्छी तरह साफ करें.
घाव पर एंटीसेप्टिक क्रीम या मलहम लगाकर साफ पट्‌टी से कवर कर दें.
छोटी चोट या खरोंच पर कैसे करें First Aid? इंफेक्शन को दूर रखने के लिए ये रहे 9 आसान और जरूरी तरीके

कब जरूरी है मेडिकल सहायता

-जानलेवा हो सकता है बिजली का झटका, जानें करंट लगने पर सबसे पहले क्या करना चाहिए

-घाव गहरा हो या आप निश्चित नहीं हैं कि घाव कितना गंभीर है.

-स्किन बुरी तरह फट गई हो, बुरी तरह कुचल गई हो या तेजी से ब्लीडिंग हो रही हो तो सबसे पहले ब्लीडिंग बंद करने के लिए साफ
कपड़े से घाव को दबाकर रखें.

-अगर सूजन, लालिमा या दर्द तेजी से बढ़ रहा हो, यह इंफेक्शन बढ़ने के संकेत हो सकते हैं.

-पीड़ित को रेबीज होने का कितना खतरा है, रेबीज से बचाव के लिए पहले कोई उपाय किया गया है या नहीं, अगर घाव पालतू कुत्ते
या बिल्ली से हुआ है तो उन्हें सही समय पर एंटी रेबीज टीका लगा है या नहीं, यह जानकारी लेना जरूरी है. किन जानवरों से रेबीज
का खतरा सबसे ज्यादा होता है इस पर अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लें.

-चमगादड़ रेबीज के वाहक होते हैं और अकसर इंसानों को बगैर किसी संकेत के इंफेक्ट्ड कर देते हैं. चमगादड़ के संपर्क में आए लोगों
या उस कमरे में चमगादड़ मिलने पर जहां कोई सोया था, ऐसी स्थिति में सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंसन रेबीज का टीका लेने
की सिफारिश करता है.

-अगर पिछले दस साल से किसी को टिटनेस की सुई नहीं लगी है तो घाव के गहरा होने पर बूस्टर डोज की जरूरत होती है.

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles