Monday, May 20, 2024

भगवान भोलानाथ की पूजा: सोमवार का व्रत करेगा हर मनोकामना पूरी, जानें महादेव को प्रसन्न करने के मंत्र…

हमारे हिंदू शास्त्रों के अनुसार सप्ताह का हर दिन किसी न किसी देवता को समर्पित होता है और इसी तरह आज सोमवार भगवान शिव को समर्पित माना जाता है। सप्ताह के पहले दिन यानी सोमवार को भगवान शिव को प्रसन्न करना आसान होता है। इनकी पूजा के लिए सोमवार यानी आज का दिन सबसे उत्तम माना जाता है। साथ ही ऐसी भी मान्यता है कि यदि इस दिन महादेव की कृपा पाने के लिए यह सरल उपाय किया जाए तो भोलेनाथ के जीवन में आने वाली हर परेशानी और परेशानी दूर हो जाती है।

यदि आप नए घर में प्रवेश करना चाहते हैं या विवाह से संबंधित कोई शुभ कार्य करना चाहते हैं तो सोमवार का दिन बहुत ही शुभ माना जाता है। इस दिन व्रत और उपवास सूर्योदय से सूर्यास्त तक रखा जाता है। भक्त इस दिन भगवान शंकर और माता पार्वती की पूजा करते हैं। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सोमवार के दिन विशेष उपाय करने से आप पर भगवान शिव की कृपा बनी रहती है। साथ ही आपके घर और परिवार में सुख-समृद्धि बनी रहती है। आपकी तरक्की और भाग्य में वृद्धि होती है।

भगवान शिव को प्रसन्न करने के मंत्र:

शिव नमस्कार मंत्र – देवों के देव महादेव को प्रसन्न करने के लिए सोमवार को महादेव की पूजा करने से पहले इस मंत्र का जाप करना चाहिए।
મંત્ર – ॐ शाम्भवाय मायाभावाय शंकराय मायास्कराय शिवाय शिवताराय।
सभी रूपों के उत्तर-पूर्वी स्वामी, सभी प्राणियों के स्वामी, ब्रह्मा के स्वामी, ब्रह्मा के महान स्वामी, ब्रह्मा के स्वामी, ब्रह्मा के स्वामी और ब्रह्मा के स्वामी, मेरे लिए शुभ हों।
पंचाक्षरी मंत्र –

सोमवार के दिन भोलेनाथ की पूजा करते समय इन शिव नामावली मंत्रों का जाप करने से हर मनोकामना पूरी होती है।:
મંત્ર -।। ओमे श्री शिवाय।
મંત્ર -।। ॐ श्री शंकर।
મંત્ર -।। ॐ श्री महेश्वरा।
મંત્ર -।। ॐ श्री संबसदासिवाय नमः।
મંત્ર -।। ॐ श्री रुद्र।
મંત્ર -।। ॐ पार्वतीपतये नमः।
મંત્ર -।। ॐ नमो नीलकंठाय नमः।
महामृत्युंजय मंत्र

अगर आप किसी बीमारी या बीमारी से पीड़ित हैं या किसी दोष या खतरे का सामना कर रहे हैं तो इस एक मंत्र का जाप करने से आपको उस बीमारी या खतरे से राहत मिलेगी।

મંત્ર – ॐ त्र्यंबकम यजामहे सुगंधिम पुष्टिवर्धनम।
मुझे अमृत से उर्वशी के समान मृत्यु के बंधन से मुक्त करो।
शिव गायत्री मंत्र –

अगर आप जीवन में पितृ दोष, कालसर्प दोष, राहु केतु और शनि सदासाती जैसे किसी दोष से परेशान हैं तो इस एक मंत्र के जाप से मुक्ति मिल सकती है।
મંત્ર -।। ॐ तत्पुरुषाय विद्महे महादेवाय विद्महे रुद्र हमसे प्रार्थना करें।
लगु महामृत्युंजय मंत्र –

जिन लोगों को महा महामृत्युंजय का जाप करने में परेशानी हो उन्हें लगु महामृत्युंजय का जाप करना चाहिए। सच्चा मन इस मंत्र का जाप करने से जीवन में छोटी-मोटी बीमारियों से भी छुटकारा मिल सकता है।

सोमवार के दिन पूरे मन से भगवान शिव की पूजा करनी चाहिए। इस दिन शिवलिंग पर चंदन के फूल, अक्षत, दूध, धतूरा, गंगाजल, बिल्वपत्र चढ़ाएं।
सोमवार के दिन भगवान शंकर को घी, शक्कर और गेहूं के आटे का भोग लगाना चाहिए। इस दिन शिव चालीसा पढ़ने के बाद शिव की आरती भी करनी चाहिए। इससे घर में शांति और सद्भाव बना रहता है।

प्रदोष काल पूजा मनोकामना पूर्ति के लिए शुभ मानी जाती है। प्रदोष काल में की गई शिव पूजा से भोलेनाथ जल्द ही प्रसन्न होते हैं और भक्तों के सभी संकट दूर करते हैं।

सोमवार के दिन दान करने का भी बहुत महत्व होता है। माना जाता है कि इस दिन शाम के समय काले तिल और कच्चे चावल का दान करने से धन और धन संबंधी समस्याएं समाप्त होती हैं। इतना ही नहीं यह पितृ दोष के प्रभाव को भी कम करता है।इस दिन दही, सफेद वस्त्र, चीनी और दूध का दान करने से भगवान शिव भक्त को मनचाहा वरदान देते हैं। सोमवार को शिवरक्षा स्तोत्र का पाठ करने से सभी प्रकार की आर्थिक समस्याएं समाप्त हो जाती हैं।चंद्र दोष के प्रभाव को दूर करने के लिए भी सोमवार का दिन बहुत शुभ होता है। इसके लिए सोमवार के दिन चंदन धारण करना चाहिए और सफेद वस्त्र धारण करने चाहिए।

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles