Friday, April 12, 2024

यहां अहमदाबाद में हैंगिंग रेस्टोरें अब आप विदेश की तरह हवा में बैठकर खा सकते हैं…

स्काई डाइनिंग: आपने स्काई डाइनिंग कॉन्सेप्ट के बारे में जरूर सुना होगा। यह अवधारणा विदेशों में देखी जाती है। जहां हवा में कई फीट लटका हुआ एक रेस्टोरेंट है, जहां से पूरे शहर को देखा जा सकता है। लोग हवा में झूमकर डिनर का लुत्फ उठाते हैं। अब यह कांसेप्ट अहमदाबाद में भी देखने को मिला है। अहमदाबाद में पहली बार स्काई डाइनिंग की शुरुआत हुई है। अहमदाबाद में एक हैंगिंग रेस्टोरेंट लॉन्च किया गया है। बहस ये है कि ये रेस्टोरेंट सिर्फ 12 पास गुजरातियों ने शुरू किया है.

कहां से शुरू हुआ रेस्टोरेंट:इस रेस्टोरेंट के शुरू होने के बाद अब आपको यह जानने में दिलचस्पी होगी कि आखिर अहमदाबाद में यह रेस्टोरेंट कहां से शुरू हुआ। अब यह रेस्टोरेंट अहमदाबाद में सरदार पटेल रिंग रोड पर थलतेज-शिल्लाज रोड के पास स्काई डाइनिंग के नाम से शुरू किया गया है। जहां क्रेन की मदद से हवा में लटककर खाना परोसा जाता है। इस रेस्टोरेंट को शुरू करने वाले राजेशभाई कलावडिया कहते हैं कि विदेशों में इस तरह के रेस्टोरेंट की ओर भारतीय लोग हमेशा आकर्षित होते थे। लेकिन मुझे भारत में ऐसा रेस्टोरेंट शुरू करने का विचार आया। इसलिए मैंने इस रेस्टोरेंट की योजना बनाई। इसके लिए राजेशभाई ने तीन साल तक काम किया। उन्होंने तीन साल तक अहमदाबाद में जगह की तलाश की। तकनीक, बजट, लोगों की सुरक्षा आदि पर भी शोध किया। फिर आखिरकार इस रेस्टोरेंट का प्लान अमल में आया।

गुजराती थाईलैंड ज्यादा क्यों जाते हैं? कारणों को जानकर आप सही होंगे

लोगों की सुरक्षा का रखा गया है खास ध्यान :इस रेस्टोरेंट में लोगों की सुरक्षा को लेकर राजेश कलवड़िया कहते हैं, इस राइड में 4 लेयर का सेफ्टी सिस्टम है. सवारी का वजन 22 लोगों सहित 8 टन है, जिसके मुकाबले क्रेन की क्षमता 250 टन है। सुरक्षा कारणों से चार से पांच गुना अधिक मजबूत उपकरण का उपयोग किया जाता है। चारों तरफ कुर्सियां ​​और मेजें हैं, जिनके बीच में 25 बाई 5 फुट की जगह है, जिसमें कर्मचारी सुरक्षा बेल्ट के साथ प्रतिस्पर्धा कर सकते हैं। यदि क्रेन की रस्सी में कोई खराबी है, तो क्रेन को सहारा देने वाले मुख्य भाग (बूम) को एक-एक करके नीचे लाया जा सकता है और पूरी डाइनिंग टेबल को सुरक्षित रूप से नीचे उतारा जा सकता है।

गुजरात के इस मंदिर में किसी भी आपदा में भी रामधुन चलती रहती है, भूकंप और तूफान में नहीं रुकती

कितना चार्ज है:अगर आप इस रेस्टोरेंट में खाना चाहते हैं तो यह जानकारी आपके लिए है। मॉकटेल सेशन, सनसेट सेशन और डिनर और लंच सेशन यहां आयोजित किए जाते हैं। ग्राहकों के लिए कुल 9 सत्र उपलब्ध हैं। एक सवारी में अधिकतम 22 लोग और न्यूनतम 2 लोग बैठ सकते हैं। सप्ताहांत की कीमत भी अलग है। प्रति व्यक्ति कीमत 2 हजार से 5 हजार रुपए तक है। जिसमें सवारी ऊपर और नीचे होती है। मॉकटेल सेशन की अवधि 30 मिनट, सनसेट सेशन 45 मिनट और डिनर और लंच सेशन 1 घंटे का होता है। जहां क्रेन की मदद से निलंबित डाइनिंग टेबल पर खाना परोसा जाता है।

160 फीट की ऊंचाई पर सर्व करने के लिए भी खास इंतजाम किए गए हैं। हमारे पास बाल्टियाँ हैं जो भोजन को उसी तापमान पर 6 घंटे तक रख सकती हैं। इतना ही नहीं, प्रत्येक भोजन नियत समय पर परोसा जाता है, ताकि ग्राहक उसका आनंद आसानी से उठा सकें।

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles