Tuesday, May 21, 2024

पैसा तैयार रखो टाटा ग्रुप की कमाई का सबसे बड़ा मौका 19 साल बाद आ रहा आईपीओ…

करीब 19 साल बाद टाटा ग्रुप की कंपनी अपना IPO लेकर आ रही है। यहां बता दें कि इससे पहले साल 2004 में टाटा ग्रुप की ताकतवर कंपनी टीसीएस का आईपीओ आया था। अब 19 साल बाद टाटा ग्रुप की कंपनी टाटा मोटर्स की सहायक कंपनी टाटा टेक्नोलॉजी का आईपीओ आने वाला है। इसमें कहा गया है कि कोई भी कंपनी आईपीओ के जरिए पब्लिक फंड जुटाती है और कंपनी के शेयर पब्लिक को इश्यू करती है। Tata Technologies Tata Motors की सहायक कंपनी है और कंपनी ने 9 मार्च को SEBI के साथ DRHP दायर किया।

टाटा टेक्नोलॉजीज के आईपीओ का विवरण:ओएफएस के 9.57 करोड़ शेयर (23.6 फीसदी) बेचे जाएंगे। जिसमें 8,11,33,706 इक्विटी शेयर टाटा मोटर्स लिमिटेड के होंगे। इसके अलावा 97,16,853 शेयर अल्फा टीसी होल्डिंग्स प्राइवेट लिमिटेड के होंगे। जबकि 48,58,425 शेयर टाटा कैपिटल ग्रोथ फंड (1) के होंगे।

इसके अलावा इस आईपीओ के लीड बुक मैनेजर जेएम फाइनेंशियल लिमिटेड, बोफा सिक्योरिटीज और सिटीग्रुप ग्लोबल मार्केट्स इंडिया होंगे। कंपनी ने फिलहालसेबी के पास अपने आईपीओ के कागजात दाखिल किए हैं। हालांकि, आईपीओ के जरिए कितना फंड जुटाया जाएगा और आईपीओ का प्राइस बैंड क्या होगा, इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है।

टाटा टेक्नोलॉजीज यहां क्या करती है यह बताने के लिए कि यह कंपनी 33 साल पहले बनाई गई थी। Tata Technologies उत्पाद इंजीनियरिंग और डिजिटल सेवाओं से संबंधित है। कंपनी ऑटोमोटिव, औद्योगिक भारी मशीनरी और एयरोस्पेस के क्षेत्रों में सेवाएं प्रदान करती है। इसके अलावा, कंपनी कारोबार के लिए काफी हद तक टाटा समूह पर निर्भर है। इनमें खासकर टाटा मोटर्स और जगुआर लैंड रोवर कंपनी शामिल हैं। यहां यह बता दें कि इस कंपनी की प्रतिद्वंदी कंपनियां Cyient, Infosys, KPIT Technologies, Persistent हैं।

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles