Saturday, July 13, 2024

चुभती-जलती घमौरी से बदन में लगी है आग तो फटाफट लगा लें ये पाउडर, बर्फ-सी ठंडी हो जाएगी स्किन

तपतपाती गर्मी से पसीना और थकान बढ़ती जा रही है। इस मौसम में घमौरियों की समस्या भी काफी बढ़ जाती है। जिससे बदन पर कांटे चुभने जैसा एहसास होने लगता है। घमौरियों पर लगातार खुजली करने पर इनमें से खून भी बहने लगता है। घमौरियां अक्‍सर ऐसी जगहों पर होती है, जो अंग कपड़ों से ढंके रहते हैं। यह आपको चेस्‍ट, गर्दन, बैक, पेट, जांघ और बाजुओं पर दिख जाएंगे।

आप इस समस्या को हटाने के लिए घर पर पाउडर बना सकते हैं। जो घमौरियों का फटाफट इलाज करने में मदद करता है। यह पाउडर पूरी तरह से नेचुरल है, जिसका कोई साइड इफेक्‍ट नहीं है। आइए ऐसे ही कुछ घरेलू उपायों के बारे में जानते हैं।

घमौरी होने के लक्षण

घमौरी को हीट रैशेज भी कहा जाता है, जो कि गर्मी में पसीने और गंदगी के कारण रोमछिद्र बंद होने पर होती हैं। इसमें मरीज को माथे, गर्दन, पीठ आदि पर छोटे-छोटे दाने, खुजली, जलन, चुभन और दर्द होने का एहसास होता है।

शिशुओं में, ये अक्सर त्वचा की परतों में दिखाई देते हैं, जैसे चेहरे पर या फिर नैपी एरिया में। प्रभावित क्षेत्र लाल हो जाता है और उसमें हल्‍की सूजन भी दिखती है।

​क्या घमौरियां हानिकारक हो सकती हैं?

​घमौरियां आमतौर पर हानिकारक नहीं होती हैं। यह कुछ दिनों के बाद अपने आप ही ठीक होकर स्‍किन से साफ हो जाती हैं। यदि कुछ दिनों के बाद भी दाने में सुधार नहीं होता है या बच्‍चों में इसे ठीक होने पर समय लग रहा है तो डॉक्‍टर को जरूर दिखा लें।

​चंदन पाउडर

रिसर्च बताती है कि चंदन पाउडर में एंटी बैक्टीरियल और एनाल्जेसिक (Ref.) गुण पाए जाते हैं, जिसका अर्थ है कि यह दर्द को कम कर सकता है। चंदन पाउडर को थोड़े से पानी में मिलाकर दाने पर लगाने से घमौरियों से जुड़ी जलन और दर्द को कम किया जा सकता है।

हीट रैश पर ऐसे करें चंदन पाउडर का उपयोग

इसे लगाने के लिए सबसे पहले इसका पेस्‍ट बनाना होगा। जिसके लिए 2 चम्‍मच चंदन पाउडर को 1 चम्‍मच पानी में मिलाएं। इसे घमौरियों पर लगाने से पहले अपनी स्‍किन पर पैच टेस्‍ट जरूर कर लें। अगर एक घंटे बाद आपकी त्‍वचा पर किसी भी प्रकार की जलन नहीं होती, तब इसे पूरे शरीर पर लगा सकती हैं।

नीम (मार्गोसा)
स्‍किन पर पड़े किसी भी प्रकार के चकत्ते का इलाज करने में मदद कर सकता है। कुछ शोधों से पता चला है कि इसमें एंटीमाइक्रोबियल और एंटी-इंफोमेट्री गुण हैं। घमौरियों पर लगाने के लिए आप नीम के पाउडर को पानी के साथ मिलाकर पेस्ट बना सकते हैं।

​बकिंग सोडा

बेकिंग सोडा (सोडियम बाइकार्बोनेट) घमौरियों के कारण हो रही तेज खुजली को कम करता है। आपको यह अपने किचन में ही मिल जाएगा। इसे उपयोग करने के लिए इसके 3 से 5 बड़े चम्मच को पानी में मिला लें और लगभग 20 मिनट तक के लिए अपने अंग को उसमें भिगोए रखें। इसे चाहें तो रूई की मददसे भी घमौरियो पर लगा सकते हैं।

Related Articles

Stay Connected

1,158,960FansLike
856,329FollowersFollow
93,750SubscribersSubscribe

Latest Articles